Madhya Pradesh Tourism

Home » » ट्रंप ने प्रदूषण के लिए भारत, चीन और रूस को ठहराया जिम्मेदार

ट्रंप ने प्रदूषण के लिए भारत, चीन और रूस को ठहराया जिम्मेदार

लंदन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर जलवायु परिवर्तन के लिए बड़ी अर्थव्यवस्थाओं को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि भारत, चीन और रूस की न तो हवा साफ है और न ही वहां पीने के लिए स्वच्छ पानी है। वे अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाते हैं। उन्होंने कहा कि इन तीनों देशों में प्रदूषण और स्वच्छता की भावना नहीं है। ट्रंप ने ब्रिटिश चैनल ITV को दिए एक साक्षात्कार में यह टिप्पणी की।
दरअसल, उनसे यूके के सम्राट प्रिंस चार्ल्स के साथ उनकी मुलाकात के बारे में पूछा गया था। इस पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- प्रिंस चार्ल्स ने उनके अंदर जलवायु परिवतर्न से लड़ने की भावना जगाई थी और वह भी एक ऐसी दुनिया चाहते हैं, जो आने वाली पीढ़ियों के लिए अच्छी हो। इस दौरान ट्रंप ने यह भी कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका में दुनिया की सबसे साफ जलवायु है।
बताते चलें कि ट्रंप का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने हाल ही में बताया था कि अमेरिका की तुलना में इन तीनों देशों में औसत वायु प्रदूषण का स्तर बहुत अधिक है, जबकि कार्बन उत्सर्जन के मामले में अमेरिका शीर्ष देशों में से एक है। गौरतलब है कि अमेरिका राष्ट्रपति ने पेरिस जलवायु करार से अपने देश को बाहर निकाल लिया है।
उन्होंने दावा किया कि संयुक्त राज्य अमेरिका की जलवायु सबसे साफ है। यह सभी आंकड़ों पर आधारित हैं और यह और भी बेहतर हो रही है। उन्होंने कहा कि भारत, चीन और रूस जैसे देशों में प्रदूषण और स्वच्छता की भावना नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर आप कुछ शहरों में जाते हैं, तो आप सांस भी नहीं ले सकते। ब्रिटेन की अपनी तीन दिवसीय राज्य यात्रा के अंत में विदा लेते हुए ट्रंप ने क्वीन एलिजाबेथ को महान महिला कहा।

Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger