Madhya Pradesh Tourism

Home » » किराए से हो रही आमदनी तो इस पर भी ले सकते हैं लोन

किराए से हो रही आमदनी तो इस पर भी ले सकते हैं लोन

रायपुर । आपके पास बहुत से साधन होते हुए भी तत्काल पैसों की आवश्यकता है और कमाई के साधन सीमित हैं। ऐसे में आप तत्काल ही लोन की जुगत लगाने में भिड़ जाएंगे, लेकिन आज के समय में लोन लेना भी आसान काम नहीं रह गया है। बैंक आपको लोन देने के पहले आपके क्रेडिट स्कोर यानी आपकी लोन चुकाने की क्षमता को कई बार चेक करता है। उसके बाद जाकर तमाम फॉर्मेलिटीज को पूरा कर वह आपको लोन देने को तैयार होता है। ऐसे में अगर आपके पास खुद का बड़ा-सा मकान है तो आपका काम काफी आसान हो सकता है। हम आपको इस खबर द्वारा बता रहे हैं कि किराए पर भी आप लोन ले सकते हैं।
ये उठाएंगे फायदा
अगर आपके पास कर्मशियल या रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी है तो आप इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। इसमें प्रॉपर्टी का मालिक एक व्यक्ति या वह संयुक्त ऑनर हो सकता है। ज्वाइंट ऑनरशिप के मामले में सभी ओनर्स को लोन के लिए आवेदन देना होगा। यह लोन सुविधा ऐसी परिसंपत्तियों के लिए उपलब्ध है, जिसे किराए पर दिया जा चुका है और जिसके लिए करार भी किया जा चुका है। यह है उद्देश्य: किराए के एवज में लिए जाने वाले लोन का उद्देश्य भविष्य में किसी भी जरूरत के लिए किया जा सकता है। जैसे कि घर खरीदने के लिए, बिजनेस बढ़ाने के लिए या फिर अपने बच्चों की पढ़ाई या उनकी शादी के लिए। इसके साथ ही इसका इस्तेमाल घर की मरम्मत या प्रॉपर्टी के रेनोवेशन के लिए भी किया जा सकता है। इसके साथ ही बैंक आपको यह अनुमति भी देता है कि आप इन पैसों का इस्तेमाल अपने मौजूदा लोन के भुगतान के लिए भी करें।
इस तरह की प्रॉपर्टी के किराए पर मिलता है लोन
आप इस तरह के लोन की सुविधा एक कमर्शियल प्रॉपर्टी पर उठा सकते हैं, जिसे या तो किराए पर दिया गया है या फिर किसी पट्टेदार को पट्टे पर दिया गया हो, जैसे कि किसी गवर्मेंट अंडरटेकिंग को, किसी बैंक को, इंश्योरेंस कंपनी को या फिर किसी बड़े खुदरा कारोबारी को। आप इस तरह की लोन की सुविधा रेजिडेंशियस प्रॉपर्टी पर भी पा सकते हैं।
इन दस्तावेजों की होती है जरूरत
इस तरह के लोन के लिए आपको बेसिक केवाइसी डॉक्यूमेंट्स जमा कराने होंगे जैसे कि एड्रेस प्रूफ, आइडेंटिटी प्रूफ आदि। ये आपको एप्लीकेशन फॉर्म के साथ जमा कराने होंगे। बैंक आपके भुगतान की क्षमता का प्रमाणपत्र भी मांग सकता है। अगर आपके पास आइटीआर उपलब्ध नहीं है तो नौकरीपेशा लोगों के लिए फॉर्म 16 ही काफी होगा।

Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger