Madhya Pradesh Tourism

Home » , » मुंबई से तीन गुना सस्ते आर्टिस्ट के कारण इंदौर बना फिल्म डायरेक्टर्स की टॉप चॉइस

मुंबई से तीन गुना सस्ते आर्टिस्ट के कारण इंदौर बना फिल्म डायरेक्टर्स की टॉप चॉइस

इंदौर पिछले कुछ वर्षों से तेजी से फिल्म डायरेक्टर्स की पसंद बनकर उभरा है। उम्दा लोकेशंस और मुंबई-इंदौर के बीच आसान आवागमन के अलावा ऐसे कई फैक्टर हैं, जिनकी वजह से मुंबइया फिल्मकार इंदौर का रुख कर रहे हैं। इसमें सबसे अहम बिंदु ये है कि यहां उन्हें छोटे रोल्स के लिए मुंबई के मुकाबले करीब तीन गुना सस्ती दरों पर कलाकार मिल जाते हैं। शहर के नामवर कलाकार अंकित तिवारी के अनुसार मुंबइया फिल्मों में काम करने के लिए कई इंदौरी आर्टिस्ट तो बिना पैसे के भी तैयार हो जाते हैं। मुंबई में एक जूनियर आर्टिस्ट को एक दिन की शूटिंग के लिए करीब 1500 से 7000 रुपए दिए जाते हैं, जबकि शहर में 500-1000 रुपए तक में जूनियर आर्टिस्ट मिल जाते हैं।
टेक्नीशियंस भी कमाल के
टेक्निकल एक्सपर्ट संजय खिमेसरा के अनुसार इंदौर में आला दर्जे का टेक्निकल स्टाफ आसानी से मिल जाता है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि प्रभास स्टारर 'बाहुबली' और रजनीकांत और अक्षय कुमार स्टारर '2.0' जैसे फिल्मों के लाजवाब एनिमेशन और वीएफएक्स में भी इंदौरी टेक्निशियंस ने अहम भागीदारी निभाई है। पिछले 4-5 साल में यहां के शैक्षणिक संस्थानों से भी बेहतर टैलेंट निकल रहा है और युवाओं को अवार्ड भी मिल रहे हैं। यही वजह है कि मुंबई, चेन्नई और बेंगलुरू के साथ-साथ विदेशों में भी इंदौरी टेक्नीशियंस को बहुत कमाल का रिस्पांस मिल रहा है।
सहजता से मिल जाती है अनुमति
शहर में शूट हुई आधा दर्जन से ज्यादा बॉलीवुड फिल्मों में बतौर लाइन प्रोड्यूसर रहे हर्ष दवे कहते हैं यह शहर शूटिंग के लिए बेहतर है, क्योंकि यहां के लोग और माहौल शूटिंग फ्रेंडली है। मुंबई के आसपास कुछ लोकेशंस पर शूटिंग के लिए काफी इंतजार करना पड़ता है। लेकिन इंदौर में अनुमति की अनावश्यक औपचारिकताओं में ज्यादा नहीं उलझना पड़ता है और अनुमति आसानी से मिल जाती है। निर्माता, निर्देशक और अभिनेता मुकेश चौकसे कहते हैं कि मुंबई में फिल्म से जुड़े सभी कलाकार और टेक्नीशियन की एसोसिएशन है, जबकि यहां ऐसी कोई बात नहीं है। ऐसे में मुंबई के निर्माता-निर्देशक वहां एसोसिएशन के नियमों के विरुद्ध जाने के बजाय यहां आकर अपनी शर्तों पर काम करना ज्यादा पसंद करते हैं। शहर के आसपास की लोकेशन प्राकृतिक हैं या ऐसी है कि सेट बनाने की जरूरत नहीं होती। इसलिए यहां शूटिंग करना ज्यादा पसंद किया जाता है। इन्हीं खूबियों के चलते अब शहर में न सिर्फ हिंदी बल्कि मराठी, गुजराती और दक्षिण भारतीय फिल्मों की भी शूटिंग हो रही है।
इंदौर और आसपास के इलाकों में शूट हुई कुछ फिल्में
नौ दौ ग्यारह : देवानंद, कल्पना कार्तिक
बहू बेगम : अशोक कुमार, मीना कुमारी
रानी रूपमती : भारत भूषण, निरूपा रॉय
किनारा : धर्मेंद्र, जीतेंद्र, हेमामालिनी
तुलसी : सचिन, साधना सिंह
श्री चार सौ बीस : राजकपूर, नर्गिस
आन : दिलीप कुमार, नादिरा
डंका : प्रेमनाथ, निम्मी
नरसिम्हा : सनी देओल, डिंपल कपाड़िया, उर्मिला मार्तोंडकर
शायद : ओमपुरी, नसीरुद्दीन शाह
प्यार किया तो डरना क्याः सलमान खान, काजोल
खयाल गाथा : निर्देशक कुमार साहनी
(कला फिल्म)
अजब गजब लव : अर्जुन रामपाल
यमला पगला दीवाना : धर्मेंद्र, सनी
देओल, बॉबी देओल
अशोका : शाहरुख खान, करीना कपूर
सतह से उठता आदमी : निर्देशक मणि
कौल
पैडमैन : अक्षय कुमार
गौतमीपुत्र शतकरणी : हेमामालिनी
फिल्मों से जुड़े कुछ बड़े इंदौरी नाम
लता मंगेशकर, किशोर कुमार, जॉनी वॉकर, सलीम खान, रीता भादुड़ी, सलमान खान, स्वानंद किरकिरे, विजेंद्र घाटगे, अच्युत पोत्दार, पलक मुछाल, पलाश मुछाल, स्नेहा खानविलकर आदि।
इंदौर और आसपास की शानदार लोकेशंस
मांडव, महेश्वर, भैरूघाट, तिंछाफाल, देवास, कस्तूरबाग्राम, रीजनल पार्क, लालबाग, राजवाड़ा, डेली कॉलेज, नवलखा, भंवरकुआं, चिड़ियाघर, बायपास, वाचू पॉइंट, खंडवा रोड आदि ।
इंदौर की खूबियां
- हवाई मार्ग द्वारा मुंबई से महज सवा घंटे की दूरी
- रेल और सड़क मार्ग से भी आसान आवागमन
- मिक्स्ड कल्चर, फिल्में पसंद करने वाले लोग
- सस्ता लेबर, आसानी से उपलब्ध जूनियर आर्टिस्ट
- आधुनिक तकनीक ने आसान किया फिल्म निर्माण
- सेंट्रल इंडिया में बढ़ रहा फिल्मों का बिजनेस
- आलीशान होटल, टाउनशिप्स और चौड़ी सड़कें
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger