Home » » पीएम मोदी ने परोसी अक्षयपात्र फाउंडेशन की तीन सौ करोड़वीं थाली

पीएम मोदी ने परोसी अक्षयपात्र फाउंडेशन की तीन सौ करोड़वीं थाली

मथुरा। मथुरा पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देशवासी गौ माता के दूध का कर्ज नहीं चुका सकते। गाय हमारी संस्कृति और परंपरा का महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। गाय ग्रामीण अर्थव्यवस्था का भी महत्वपूर्ण हिस्सा रही है। उन्होंने कहा कि देश में पशुपालकों की मदद के लिए अब बैंकों के दरवाजे खोल दिए गए हैं। अब बैंकों से तीन लाख रुपये तक का ऋण मिल सकता है। इससे हमारे तमाम पशुपालकों को लाभ मिलने वाला है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ कृष्ण नगरी मथुरा में है। मथुरा में वह अक्षयपात्र फाउंडेशन के 300 करोड़ का लक्ष्य प्राप्त करने के उपलक्ष्य में शिरकत करने पहुंचे हैं। इस अवसर पर उन्होंने मिड डे मील का स्वाद भी चखा और विशाल पंडाल में मौजूद अभिभावकों के साथ बच्चों को भी संबोधित किया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस बार प्रयागराज कुंभ मेला ने देश को स्वच्छता का संदेश देने में सफलता पाई है। आम तौर पर कुंभ मेला में नागा बाबा की चर्चा होती है, पहली बार न्यूयॉर्क टाइम्स ने कुम्भ की स्वच्छता को लेकर रिपोर्ट की है।
उन्होंने कहा कि यदि हम सिर्फ पोषण के अभियान को हर माता, हर शिशु तक पहुंचाने में सफल हुए तो अनेक जीवन बच जाएंगे। इसी सोच के साथ हमारी सरकार ने पिछले वर्ष राजस्थान के झूंझनू से देशभर में राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरुआत की थी। पिछले वर्ष सितंबर के महीने को पोषण के लिए ही समर्पित किया गया था। अब सुनिश्चित किया जा रहा है कि बदली परिस्थितियों में पोषकता के साथ, पर्याप्त और अच्छी गुणवत्ता वाला भोजन बच्चों को मिले। इस काम में अक्षय पात्र से जुड़े आप सभी लोग, खाना बनाने वालों से लेकर खाना पहुंचाने और परोसने वाले तक के काम में जुटे सभी व्यक्ति देश की मदद कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि मिशन इंद्रधनुष के तहत देश के हर बच्चे तक पहुंचने का लक्ष्य लिया गया। अब तक इस मिशन के तहत देश में लगभग 3 करोड़ 40 लाख बच्चों और करीब 90 लाख गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण करवाया जा चुका है। जिस गति से काम हो रहा है, उससे तय है संपूर्ण टीकाकरण का लक्ष्य अब ज्यादा दूर नहीं है। मिशन इंद्रधनुष को आज दुनियाभर में सराहा जा रहा है।
हाल में ही एक मशहूर मेडिकल जर्नल ने इस कार्यक्रम को दुनिया की 12 बेस्ट प्रैक्टिस में चुना है। हमने टीकाकरण अभियान को तेजी तो दी ही है, टीकों की संख्या में भी बढ़ोतरी की है। पहले के कार्यक्रम में पांच नए टीके जोड़े गए हैं। जिसमें से एक इन्सेफलाइटिस यानि जापानी बुखार का भी है, जिसका सबसे ज्यादा खतरा उत्तर प्रदेश में देखा गया है। अब कुल 12 टीके बच्चों को लगाए जा रहे हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि बच्चों के सुरक्षा कवच का एक और महत्वपूर्ण पहलू है स्वच्छता है। स्वच्छ भारत अभियान के माध्यम से इस खतरे को दूर करने का बीड़ा हमने उठाया। एक अंतरराष्ट्रीय रिपोर्ट आई है, जिसमें संभावना जताई गई कि सिर्फ स्वच्छ भारत मिशन से, करीब तीन लाख लोगों का जीवन बच सकता है।
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन को केंद्र सरकार की उपलब्धि बताया। मिशन इंद्रधनुष के तहत तीन करोड़ 40 लाख बच्चों और 90 लाख महिलाओं का टीकाकरण किया जा चुका। पांच नए टीके जोड़े। जिसमें जापानी बुखार का भी। मिशन को दुनियाभर में सराहा जा रहा है। जर्नल्स ने विश्व के 12 सर्वश्रेष्ठ मिशन में जोड़ा है। गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए 6 हजार की मदद।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि प्रयास 'मैं से हम' तक की यात्रा का सबसे अच्छा उदाहरण हैं। मैं' जब 'हम'बन जाता है तो हम खुद से ऊपर उठकर समाज के बारे में सोचते हैं। मैं जब 'हम' बन जाता है तो सोच का दायरा बढ़ जाता है, 'हम' का विचार अपने देश को, अपनी संस्कृति को व्यक्ति से ज्यादा महत्वपूर्ण बनाता है।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर अक्षय पात्र के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि आज यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 300 करोड़ की संख्या की थाली परोसने का काम करेंगे। प्रदेश सरकार केंद्र सरकार के सहयोग से मिड-डे मील उपलब्ध करा रही है है।
उन्होंने गुणवत्तापूर्ण भोजन के लिए अक्षय पात्र को धन्यवाद दिया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार ने छह जिलों में रसोई के लिए धन अवमुक्त किया है। इस अवसर पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने भव्य और दिव्य कुम्भ का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि यह कार्य प्रधानमंत्री मोदी की पीएम की प्रेरणा से हो रहा है। उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत ही हमने भी स्वच्छ कुम्भ का संदेश दिया। अक्षय पात्र ने भी कुम्भ में बड़ा सहयोग किया है।
मंच पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथ हिलाकर और हाथ जोड़कर लोगों का अभिवादन किया। इस दौरान मंच पर सांसद हेमामालिनी ने भी लोगों का अभिवादन किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ मंच पर मथुरा की सांसद हेमा मालिनी, राज्यपाल राम नाईक, उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मीनारायण व राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार अनुपमा जायसवाल भी हैं।
पीएम मोदी ने श्री प्रभुपाद की प्रतिमा पर पुष्पार्जन किया। उन्होंने कहा कि प्रभुपाद अक्षय पात्र की प्रेरणा हैं और रहेंगे भी। कार्यक्रम सरस्वती वंदना से शुरू हुआ। इसमें आयोजक ने प्रस्तावना में कहा कि हमारा प्रयास यह है कि ऐसा भारत बनाना है कि कोई भूखा न रहे। सभी बच्चे कृष्ण के बच्चे, वह किसी को भूखा नहीं रहने देंगे। हमारा प्रयास है कि अगले पांच वर्ष में पांच लाख और बच्चों को भोजन मुहैया कराएं।
ग्रेटर नोएडा से पीएम मोदी के साथ सीएम योगी आदित्यनाथ मथुरा के वृंदावन पहुंचकर बच्चों के साथ मन की बात भी करेंगे। अक्षय पात्र फाउंडेशन प्राथमिक विद्यालयों को मिडडे मील उपलब्ध कराता है।
नन्हें दिलों को पीएम मोदी से बड़ी उम्मीद
सबका साथ, सबका विकास का पीएम मोदी के नारे से न केवल बड़े बल्कि बच्चे भी इतने प्रभावित हैं, कि पीएम से मुलाकात को चयनित बच्चों ने भी अपने मन में बड़ी उम्मीदें पाल ली हैं। खास बात ये है कि पीएम से मिलने का मौका मिलने से उत्साहित बच्चों की मुराद अपने लिए नहीं बल्कि समाज और अपने जैसे साथियों की उम्मीदों को पूरा करने की है।
कोई स्कूल की जर्जर छत को ठीक करवाने की मांग कर रहा है, तो कोई स्कूल को इंटरमीडिएट तक करने की मांग को पीएम मोदी के सामने रखने का मन बना चुका है। मथुरा के 108 गांवों से करीब आठ हजार बालक और उनके अभिभावकों को सभा में शामिल होने के लिए बुलाया
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger