Home » , » प्रधानमंत्री ने रवांडा में भारतवंशियों के 'सकारात्मक प्रभाव' की प्रशंसा की

प्रधानमंत्री ने रवांडा में भारतवंशियों के 'सकारात्मक प्रभाव' की प्रशंसा की

किगाली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत और रवांडा की मित्रता पर भारतवंशियों द्वारा डाले गए सकारात्मक प्रभावों की प्रशंसा की। रवांडा की दो दिवसीय यात्रा पर पहुंचे प्रधानमंत्री ने मंगलवार को कहा कि पूरी दुनिया पर अपनी छाप छोड़ने वाले भारतवंशी खुद को विशिष्ट साबित करते हुए अपनी उपलब्धियों से देश को गौरवान्वित कर रहे हैं।
भारत और रवांडा के प्रमुख सीईओ को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने इस पूर्वी अफ्रीकी देश को अफ्रीका में सभी दरवाजों की चाबी कहा है। दो दिनों की रवांडा यात्रा पूरी होने के बाद मंगलवार को प्रधानमंत्री उगांडा की यात्रा पर रवाना हो गए। रवांडा में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि राष्ट्रपति पॉल कगामे ने सोमवार को उन्हें इस अफ्रीकी देश में भारतीय समुदाय के कार्यों के बारे में बताया।
प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया है, "रवांडा में भारतीय समुदाय के साथ खुशगवार बातचीत हुई। भारतवंशी पूरी दुनिया में अपने आप को विशिष्ट साबित कर रहे हैं और अपनी उपलब्धियों से हमें गौरवान्वित कर रहे हैं। रवांडा में रहने वाले भारतवंशियों का भारत-रवांडा संबंधों पर बहुत सकारात्मक प्रभाव है। राष्ट्रपति ने मुझसे कहा कि भारतीय समुदाय रवांडा के विकास में योगदान कर रहा है और वह बड़े पैमाने पर समाज सेवा करते हैं। मुझे यह सुनकर बहुत खुशी हुई।"
इससे पहले मोदी ने राष्ट्रपति कगामे के साथ उच्च स्तरीय बातचीत करते हुए रक्षा, व्यापार और कृषि क्षेत्रों में सहयोग को मजबूत कर द्विपक्षीय रणनीतिक संबंधों को बढ़ावा देने के उपायों पर चर्चा की थी। प्रधानमंत्री मोदी 1994 नरसंहार में मारे गए 2,50,000 लोगों की याद में बने रवांडा के नरसंहार स्मारक केंद्र भी गए।
रवांडा को 20 करोड़ डॉलर का कर्ज देगा भारत
भारत ने रवांडा के आर्थिक विकास के लिए उसको 20 करोड़ डॉलर (लगभग 1400 करोड़ रुपये) की ऋण सुविधा की मंजूरी दी है। इसमें से औद्योगिक पार्क और किगाली सेज विकसित करने के लिए 10 करोड़ डॉलर (लगभग 700 करोड़ रुपये) और कृषि क्षेत्र के लिए 10 करोड़ डॉलर (लगभग 700 करोड़ रुपये) दिए जाएंगे। एक रक्षा सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर भी किया गया है। शिष्टमंडल स्तरीय वार्ता में रक्षा, व्यापार, कृषि, पशुपालन सहित विभिन्ना क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा हुई। विकास में सहयोग जारी रखने को रेखांकित करते हुए मोदी ने कहा कि हमारे लिए यह गौरव की बात है कि रवांडा की आर्थिक प्रगति में हमारा देश उसके साथ खड़ा रहा है।
किगाली में जल्दी ही भारतीय उच्चायोग
जल्दी ही किगाली में भारतीय उच्चायोग स्थापित किए जाने को मंजूरी दे दी है। राष्ट्रपति कगामे के साथ मुलाकात के बाद मोदी ने कहा कि भारत जल्दी ही रवांडा में अपना उच्चायोग स्थापित करेगा। एक संयुक्त बयान में उन्होंने कहा है, "हम रवांडा में उच्चायोग स्थापित करने वाले हैं। इससे न सिर्फ हमारी सरकारों के बीच संवाद कायम होगा, बल्कि काउंसलर, पासपोर्ट और वीजा सुविधाएं भी बढ़ेंगी।"
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger