Home » » बालटाल से अमरनाथ यात्रा बहाल, अब तक 83 हजार ने किए दर्शन

बालटाल से अमरनाथ यात्रा बहाल, अब तक 83 हजार ने किए दर्शन

श्रीनगर। बारिश व भूस्खलन के कारण तीन दिनों से बालटाल मार्ग से रुकी अमरनाथ यात्रा शनिवार को बहाल हो गई। बालटाल से 1285 और पहलगाम से 2967 श्रद्धालु पवित्र गुफा की तरफ रवाना हुए।
देर शाम तक 10,107 श्रद्धालुओं ने बाबा बर्फानी के दर्शन किए। इसके साथ ही अब तक 83,130 श्रद्धालु यात्रा कर चुके हैं। इस बीच, पंजतरणी में फंसे 241 और श्रद्धालुओं को वायुसेना के एमआइ-17 हेलीकॉप्टर की मदद से आधार शिविर पहुंचाया गया। शुक्रवार को भी करीब 350 श्रद्धालुओं को हेलीकॉप्टर से निकाला गया था।
बालटाल मार्ग पर रेलपथरी व बरारीमर्ग में मूसलधार बारिश से हुए भूस्खलन के चलते पवित्र गुफा की तरफ जाने वाला मार्ग क्षतिग्रस्त हो गया था। इस कारण बालटल से यात्रा रोक दी गई थी।
क्षतिग्रस्त मार्ग की मरम्मत के बाद शनिवार को बालटाल से यात्रा बहाल की गई। एहतियातन अधिक श्रद्धालुओं को इस मार्ग से नहीं भेजा गया। पहले दिन बालटाल में रुके 1285 श्रद्धालुओं को पवित्र गुफा की तरफ रवाना किया। मौसम व मार्ग की हालात को देखकर आगे फैसला लिया जाएगा।
भगवती नगर व नगरोटा में श्रद्धालुओं का प्रदर्शन : दो दिन बाद शनिवार को जम्मू से बाबा अमरनाथ के लिए यात्रा जरूर शुरू हुई, लेकिन इस दौरान प्रशासन को श्रद्धालुओं के गुस्से का भी शिकार होना पड़ा। श्रद्धालुओं ने निजी वाहनों में जाने की अनुमति न मिलने के विरोध में भगवती नगर और नगरोटा में प्रदर्शन किया।
प्रशासन ने सुरक्षा कारणों से जत्थे में सिर्फ राज्य पथ परिवहन निगम की बसों को ही जाने दिया। जम्मू से आज रवाना नहीं होगा जत्था आठ जुलाई को आतंकी बुरहान वाहनी की बरसी के मद्देनजर प्रशासन ने श्रद्धालुओं की
सुरक्षा को देखते हुए रविवार को जम्मू से जत्था नहीं भेजने का फैसला किया है। शनिवार को भी जम्मू से केवल उन्हीं श्रद्धालुओं को आगे भेजा गया, जिन्होंने बस से बुकिग करवा रखी थी।
जाम में फंसी एंबुलेंस, नवजात की मौत : अमरनाथ यात्रा के जत्थे के ऊधमपुर से गुजरने के बाद जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर शनिवार को दोनों तरफ से छोड़े गए वाहनों की वजह से लंबा जाम लग गया।
इस दौरान एक एंबुलेंस नवजात को गंभीर हालत में रामबन से जम्मू अस्पताल लेकर आ रही थी।
एंबुलेंस समरोली में काफी देर तक फंसी रही। किसी तरह ऊधमपुर से आगे निकलकर जब एंबुलेंस जम्मू से करीब 13 किलोमीटर पहले नगरोटा पहुंची तो नवजात ने दम तोड़ दिया।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger