Home » » सैन्य शक्ति में भारत दुनिया में चौथे स्थान पर, पाक 17वें स्थान पर फिसला

सैन्य शक्ति में भारत दुनिया में चौथे स्थान पर, पाक 17वें स्थान पर फिसला

नई दिल्ली। सेनाओं के समक्ष बढ़ रही सुरक्षा चुनौतियों के बीच भारत सैन्य ताकत को लगातार बढ़ाने का प्रयास कर रहा है। इसके परिणाम भी सामने आ रहे हैं। दुनियाभर के तमाम देशों की सेनाओं और रक्षा शक्ति का आकलन करने वाली संस्था ग्लोबल फायर पावर ने कहा है कि सैन्य ताकत के मामले में भारत दुनिया में चौथे स्थान पर है जबकि पाकिस्तान 17वें पायदान पर है।
पाकिस्तान भले ही परमाणु बम हमले जैसी बात करे पर उसका स्थान सूची में शीर्ष 15 देशों में भी नहीं है। इस संस्था ने वर्ष 2018 के अपने विश्लेषण में 136 देशों को शामिल किया है। इस क्रम में अमेरिका, रूस और चीन के बाद भारत का चौथा स्थान है। भारत इस सूची में फ्रांस और ब्रिटेन से भी आगे है।
गौरतलब है कि ग्लोबल फायर पावर संस्था ने अपने विश्लेषणों में परमाणु हथियारों को शामिल नहीं किया है। जिन बिंदुओं को आधार माना गया है वे हैं- रक्षा बजट, सैन्य संसाधन, प्राकृतिक संसाधन, भौगोलिक सुविधाएं और उपलब्ध जनशक्ति।
सैनिकों की तुलना में भारत से काफी पीछे है पाक
रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के पास एक्टिव आर्मी यानी सक्रिय सैनिकों की तादाद 13 लाख से अधिक है। इसके अलावा 28 लाख रिजर्व जवान हैं जो कभी भी जरूरत पड़ने पर सेना की मदद करने को तैयार हैं, वहीं पाकिस्तान के पास सक्रिय सैनिकों के तौर पर केवल छह लाख, 37 हजार और रिजर्व सैनिक तीन लाख ही हैं।
लड़ाकू विमानों में भी पीछे वहीं बात
अगर लड़ाकू विमानों की संख्या की करें तो तो भारत के पास लड़ाकू विमानों की संख्या दो हजार से भी ज्यादा है। टैंकों की संख्या तकरीबन 4,400 है। वहीं अगर ग्लोबल फायर पावर की रिपोर्ट मानी जाए तो रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान के पास हेलिकॉप्टर और मालवाहक विमानों समेत लड़ाकू विमानों की संख्या करीब 1,000 और टैंकों की संख्या तीन हजार के करीब ही है। उसके पास युद्धपोत भी नहीं हैं, लेकिन दूसरे किस्म के समुद्री जहाजों की संख्या भी मात्र 200 के आसपास ही है।
13वें स्थान से फिसलकर 17वें पर आया पाक
बड़ी-बड़ी बातें करने वाला पाकिस्तान दुनिया में सैन्य ताकत के मामले में 17वें पायदान पर है। उसने पिछले कुछ वर्षों के मुकाबले पिछले साल यानी 2017 में अपनी सैन्य ताकत में वृद्धि जरूर की थी। लेकिन साल 2018 के आंकड़ों पर अगर नजर डाली जाए तो पाकिस्तान की रैंकिंग फिर से फिसल गई है। 2017 में पाकिस्तान की रैकिंग 13वें स्थान पर थी।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger