Home » » आफत की बारिश : उप्र में 13 की मौत, उत्तराखंड में 140 सड़कें मलबे से बाधित

आफत की बारिश : उप्र में 13 की मौत, उत्तराखंड में 140 सड़कें मलबे से बाधित

नई दिल्ली। गुरुवार को दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तर भारत में हुई मूसलधार बारिश ने गर्मी से राहत तो दी, लेकिन साथ ही ट्रैफिक जाम और सड़कों पर जलजमाव ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया।
कई जगह मकान गिर गए, सड़कें धंस गईं। सड़कों, रेल लाइन व रन वे में पानी भरने से यातायात बाधित रहा, टे्रनें की रफ्तार थमी, फ्लाइट रद हुई। सबसे ज्यादा परेशानी दिल्ली-एनसीआर में हुई।
दिल्ली से सटे गाजियाबाद के बसुंधरा में के सेक्टर चार में तेज बारिश के दौरान दो जगह सड़क धंसने से हड़कंप मच गया। आनन-फानन में दोनों सोसायटी में रहने वालों को बाहर निकाला गया।
सड़क पर दो जगह करीब तीस फीट गहरा और 35 फीट चौड़ा गड्ढा हो गया। दिल्ली-एनसीआर की सड़कों पर सुबह 8 बजे से ही लोगों को जाम का सामना करना पड़ा।
उत्तर प्रदेश में बारिश के कारण अलग-अलग घटनाओं में 13 लोगों की जान चली गई। तेज बारिश से कई राज्यों में नदियां खतरे के निशान तक पहुंच गई है।
दिल्ली-एनसीआर के अलावा हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश के कई हिस्से, मध्य प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, चंडीगढ़, पंजाब और राजस्थान में भी जमकर बारिश हुई। मौसम विभाग की मानें तो यह स्थिति शनिवार तक रहेगी।
उत्तराखंड में 140 सड़कों पर मलबा : उत्तराखंड में बारिश व भूस्खलन से पहाड़ों की लाइफ लाइन सड़कें बंद हैं। 140 ज्यादा सड़कों पर मलबा आने से आवागमन प्रभावित है।
ऋषिकेश और हरिद्वार में गंगा चेतावनी निशान के करीब है तो कुमाऊं काली नदी खतरे के निशान के पास पहुुंच चुकी है। मसूरी में एकाएक कैम्पटी फॉल में उफान आ गया।
खराब मौसम से कैलास-मानसरोवर यात्रा भी प्रभावित है। आठवें दल गुंजी से आगे नहीं बढ़ पा रहा है। नौवां दल पिथौरागढ़ और दसवां अल्मोड़ा में रुका है।
बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री हाईवे पर मलबा गिरने का सिलसिला जारी है। हिमाचल में मणिकर्ण में पार्वती की सहायक नदी ब्रह्मागंगा में बाढ़ आ गई है। कई जगह भूस्खलन से मार्ग बाधित हैं।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger