Home » » International Yoga Day 2018: डायबिटीज के मरीजों के लिए ये एक आसन बड़े काम का है

International Yoga Day 2018: डायबिटीज के मरीजों के लिए ये एक आसन बड़े काम का है

नई दिल्ली। सही समय पर व्यायाम न करना, गलत भोजन करना और आजकल की तनावग्रस्त आधुनिक जीवनशैली मधुमेह की समस्या को और अधिक जटिल कर देती है। मधुमेह की समस्या को पूरी तरह ठीक करने के लिए अपनी जीवन शैली में योगासन, प्राणायाम व ध्यान को जोड़ना एक सही कदम हो सकता है। मधुमेह के लिए एक आसन काफी कारगर साबित हो सकता है। वह है गोमुखासन।
यह आसन करते समय शरीर का आकार गाय के मुख के समान होने के कारण इसे गोमुखासन कहा जाता है। यह महिलाओं के लिए अधिक फायदेमंद माना जाता है। यह भी सिद्ध है कि योग से रोगों पर नियंत्रण पाया जा सकता है। गोमुखासन मधुमेह रोगियों को विशेष रूप से फायदा देता है।
 दोनों पैर सामने फैलाकर बैठ जाइए। बाएं पैर को मोड़कर एड़ी को दाएं नितम्ब के पास रखें।
- दाएं पैर को मोड़कर बाएं पैर के ऊपर इस प्रकार रखें कि दोनों घुटने एक दूसरे के ऊपर हो जाएं।
- दाएं हाथ को ऊपर उठाकर पीठ की ओर मुड़िए तथा बाएं हाथ को पीठ के पीछे नीचे से लाकर हाथ को पकड़िए। गर्दन और कमर सीधी रहे।
- एक ओर से लगभग एक मिनट तक करने के पश्चात दूसरी ओर से इसी प्रकार करें।
- जिस ओर का पैर ऊपर रखा जाए उसी ओर का (दाएं/बाएं) हाथ ऊपर रखें।
- आंत्र वृद्धि में विशेष लाभप्रद हैं।
- धातुरोग, बहुमूत्र एवं स्त्री रोगों में लाभकारी है।
- यकृत, गुर्दे एवं वक्षस्थल को बल देता है। संधिवात, गठिया को दूर करता है।
- वजन कम करने के लिए यह आसन उपयोगी है।
- यह शरीर को सुडोल, लचीला और आकर्षक बनाता है।
अच्छे परिणाम प्राप्त करने हेतु आपको योग को अपने जीवन का अभिन्न अंग बनाना होगा। इसके लिए आपको निरंतर अनुशासन में रहना होगा। आप यह योगासन सुबह या शाम, जो भी समय आपको ठीक लगता है, उस समय कर सकते हैं। जो भी समय आपने अपने योगासन करने के लिए निर्धारित किया हैं, उसके प्रति अनुशासित रहे। आप कुछ ही समय में बहुत अच्छे परिणाम देखेंगे।
मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए ये आसन भी है फायदेमंद: 
- कपालभाति प्राणायाम
- सुप्त मत्स्येन्द्रासन
- धनुरासन
- पश्चिमोत्तानासन
- अर्धमत्स्येन्द्रासन
- शवासन
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger