Home » » बुनियादी विकास के लिए चाहिए 300 लाख करोड़ रुपए का निवेश : पीयूष गोयल

बुनियादी विकास के लिए चाहिए 300 लाख करोड़ रुपए का निवेश : पीयूष गोयल


मुंबई। कार्यवाहक वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि देश में बुनियादी ढांचा तैयार करने के लिए अगले दशक के दौरान 4.5 लाख करोड़ डॉलर (300 लाख करोड़ रुपये) निवेश की जरूरत होगी। इस विशाल पूंजी की लागत भी चुनौतीपूर्ण होगी।
एशियन इन्फ्रास्ट्रक्चर इन्वेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी) के शुरू हुए दो दिवसीय सम्मेलन में गोयल ने यह बात कही। वैसे एआइआइबी के तीसरे वार्षिक सम्मेलन की औपचारिक शुरुआत मंगलवार को होगी। इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे।
एआईआईबी के गवर्नर्स पैनल में उन्होंने यह भी कहा कि आवश्यक वित्तीय संसाधन जुटाने में देश को कोई दिक्कत नहीं होगी। गोयल की यह टिप्पणी उस समय आई है जबकि अमेरिका द्वारा ब्याज दरें बढ़ाए जाने के बाद विश्व स्तर पर कर्ज महंगे होने लगे हैं। देश में भी ब्याज दर बढ़ने लगी हैं। ऐसे में वित्तीय संसाधनों की लागत अहम मसला है।
उन्होंने कहा कि बड़े इन्फ्रा प्रोजेक्टों को स्थापित करने की क्षमता विकसित करना भी चुनौतीपूर्ण है। इन दोनों ही चुनौतियों में एआईआईबी से मदद मिलेगी। गोयल ने कहा कि भारतीय मुद्रा रुपया करेंसी बाजार में लंबे समय तक स्थिर रहेगी। विश्व बाजार में रुपया सुरक्षित मुद्रा साबित हो सकती है।
एआईआईबी के प्रिंसिपल स्ट्रैटजी ऑफीसर नजीब हैदर ने कहा कि एआईआईबी भारत के अफोर्डेबल हाउसिंग के क्षेत्र में निवेश करने का इच्छुक है। लेकिन उसे पुनर्भुगतान के लिए सरकार की मदद की आवश्यकता होगी।
एनआईआईएफ नया फंड लाएगा
नेशनल इन्फ्रास्ट्रक्चर एंड इन्वेस्टमेंट फंड (एनआईआईएफ) के एमडी व चीफ एक्जीक्यूटिव सुजॉय बोस ने कार्यक्रम में कहा कि एनआईआईएफ दो अरब डॉलर का दीर्घकालिक फंड लांच करने की योजना बना रहा है ताकि देश के मेगा प्रोजेक्टों को वित्तीय संसाधन मुहैया कराया जा सके। एफआईआईएफ अभी दो फंड संचालित कर रहा है।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger