Home » » नक्सलियों से भिड़ेगी बस्तरिया बटालियन, परेड में ये बोले गृहमंत्री राजनाथ

नक्सलियों से भिड़ेगी बस्तरिया बटालियन, परेड में ये बोले गृहमंत्री राजनाथ

अंबिकापुर । केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि माओवादी विकास के सबसे बड़े दुश्मन हैं। नक्सली दूरस्थ इलाकों का विकास ये नही चाहते हैं। माओवादी चाहते है कि गांवों में रहने वाली आदिवासी जनता जिंदगीभर गरीबी झेलते हुए विकास से दूर रहे।
उन्होंने कहा माओवादी संगठनों के बड़े नेता बड़े शहरों में आलीशान बंगलों में रहकर सुख सुविधा की जिंदगी जी रहे है। उनके बच्चे नामी विश्वविद्यालयों और स्कूलों में पढ़ाई कर रहे है। ऐसे माओवादी नेताओं के खिलाफ भी सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। उन्हें दुनिया की कोई ताकत नही बचा सकती।
सोमवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह सीआरपीएफ के इस बस्तरिया बटालियन के पहले बैच के पासिंग आउट कार्यक्रम में शामिल हुए। मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बस्तरिया बटालियन न सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि पूरे देश में अपनी सेवाएं देगी। गृहमंत्री ने कहा कि प्रदेश का जो इलाका बिजली, सड़क जैसी दूसरी सुविधाओं से महरूम है, उसके लिए राज्य सरकार नही, माओवादी जिम्मेदार है।
बस्तरिया बटालियन के जवानों की हौसला अफजाई करते हुए उन्होंने कहा कि इन बेटे बेटियों ने यह साबित कर दिया है कि योग्यताएं सिर्फ शहरों की अट्टालिकाओं से नही, बस्तर जैसे दूरस्थ इलाकों से भी निकलती है।
उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की दृढ़ इच्छाशक्ति और राज्य सरकारों के समन्वय, फोर्स की सक्रियता से नक्सलवाद, आतंकवाद, अलगाववाद से जवानों के शहीद होने की संख्या में 50 से 55 फीसदी में कमी आई है।
भौगोलिक रूप से भी इनका दायरा कम हो गया है। उन्होंने कहा कि यदि कोई जवान शहीद होता है तो पैसों से उसकी भरपाई नही हो सकती लेकिन उनके परिवार की जिम्मेदारी का दायित्व सरकार का है, इसलिए सरकार ने तय किया है कि जवान की शहादत पर कम से कम 1 करोड़ की सहायता राशि दी जाएगी।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger