Home » » तिरंगे में लपेटकर मोर को दी गई अंतिम विदाई

तिरंगे में लपेटकर मोर को दी गई अंतिम विदाई

नई दिल्ली। विशिष्ट जनों को तिरंगे में लपेटकर राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई देने की परंपरा और व्यवस्था पुरानी है, लेकिन किसी पक्षी के लिए यह सम्मान शायद ही पहले देखने को मिला हो। दिल्ली में दो दिनों में दो मोर की मौत हो गई।
दोनों का अंतिम संस्कार तिरंगे में लपेट कर राजकीय सम्मान के साथ किया गया। अंतिम संस्कार से पहले एक मोर का पोस्टमार्टम भी कराया गया। वैसे, प्रारंभिक जानकारी के आधार पर दिल्ली पुलिस के अधिकारी एक की मौत आंधी की चपेट में आने से व दूसरे की मौत बुजुर्ग होने के चलते बता रहे हैं।
शुक्रवार की भोर में तिलक मार्ग थाना पुलिस को जानकारी मिली कि हाई कोर्ट के गेट नंबर 5 के नजदीक एक मोर अधमरा पड़ा है। इस सूचना पर एएसआइ रमेश चंद व हेडकांस्टेबल किशन वहां पहुंचे और मोर को उपचार के लिए चांदनी चौक लाल मंदिर में स्थित पक्षियों के अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। तिलक मार्ग थाना के एसएचओ नरेश सोलंकी ने बताया कि उसके बाद मृत मोर को वे लोग बसंतकुंज के जोनापुर स्थित पशु-पक्षी अस्पताल ले गए। जहां पोस्टमार्टम कराया गया। शुक्रवार को ही राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दे दी गई।
सोलंकी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट एक सप्ताह बाद मिलेगा। वैसे, प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक देर रात आंधी के कारण पेड़ से गिरने के कारण मौत हुई लगती है। अधिकारी ने बताया कि मोर राष्ट्रीय पक्षी है, इसलिए अंतिम विदाई में राजकीय सम्मान का पूरा ख्याल रखा गया।
दूसरी घटना, राष्ट्रपति भवन के गेट नंबर आठ के पास की है, जहां शनिवार की दोपहर एक घायल मोर मिला। उपचार के लिए दिल्ली पुलिस के जवान उसे सरकारी गाड़ी में चाणक्यपुरी स्थित अस्पताल ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। बाद में उसके शव को राजकीय सम्मान के साथ एसपी मार्ग के जंगल में दफन किया गया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि दूसरा मोर काफी उम्रदराज व बीमार था।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger