Home » » मुंबई पहुंचे 30,000 किसान, विपक्षी दलों के समर्थन के बाद घेरेंगे महाराष्ट्र विधानसभा

मुंबई पहुंचे 30,000 किसान, विपक्षी दलों के समर्थन के बाद घेरेंगे महाराष्ट्र विधानसभा

मुंबई। ऑल इंडिया किसान सभा (एआईकेएस) का किसान मोर्चा रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा का घेराव करेगा। पूरे ऋण माफी की मांग के लिए 30,000 से अधिक किसान मुंबई पहुंच चुके हैं। मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में किसानों से मिलने गए सिंचाई मंत्री गिरीश महाजन के आश्वासन के बावजूद किसान विधानसभा का घेराव करने की योजना से पीछे हटने को तैयार नहीं हैं।
माकपा की किसान शाखा ऑल इंडिया किसान सभा ने छह मार्च को नासिक से मुंबई के लिए प्रस्थान किया था। रविवार को मुंबई पहुंचे इस पैदल मार्च में रास्ते से भी किसान शामिल होते गए और अब उनकी संख्या 30 हजार से ऊपर हो चुकी है।
किसान सभा के महासचिव अजीत नवले के अनुसार, सोमवार सुबह नौ बजे सायन स्थित सोमैया ग्राउंड से यह मोर्चा रवाना होगा। दादर, भायखला, छत्रपति शिवाजी टर्मिनस होते हुए यह विधानसभा पहुंचेगा। सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार अब कोई भी प्रदर्शन या मोर्चा दक्षिण मुंबई स्थित मंत्रालय या विधानसभा तक नहीं जा सकता। इसके बावजूद इस मोर्चे ने विधानसभा को घेरने का मन बना रखा है।
बात करने के लिए तैयार मुख्यमंत्री
मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के तौर पर रविवार को किसानों से मिलने गए राज्य के सिंचाई मंत्री गिरीश महाजन ने पत्रकारों को बताया कि सरकार किसान प्रतिनिधियों से मिलने और उनकी सभी मांगें मानने को तैयार है। मुख्यमंत्री ने उनकी मांगों पर विचार करने के लिए सोमवार को अधिकारियों की एक बैठक बुलाई है।
बता दें कि ऑल इंडिया किसान सभा के इस मोर्चे में ज्यादातर आदिवासी किसान हैं। इनकी मांगों में स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू करने के अलावा किसानों को संपूर्ण कर्ज माफी, प्रमुख जिंसों के डेढ़ गुना मूल्य देना, ओलावृष्टि जैसी प्राकृतिक आपदाओं से त्रस्त होने की स्थिति में प्रति एकड़ 40 हजार रुपए तक मुआवजा देने जैसी मांगें शामिल हैं।
इस किसान मोर्चे के बहाने सियासी दल भी मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस को घेरने में लग गए हैं। इनमें सरकार में शामिल शिवसेना भी शामिल है। शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने रविवार को किसान मोर्चा के मुंबई पहुंचने पर किसान नेताओं से मुलाकात की।
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के अध्यक्ष राज ठाकरे ने भी किसानों को अपने समर्थन की घोषणा की है। सोमवार सुबह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सुनील तटकरे एवं विधान परिषद में नेता विरोधी दल धनंजय मुंडे भी किसानों से मिलेंगे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चह्वाण ने भी किसानों की मांगों का समर्थन करते हुए कहा है कि सरकार को उनकी मांगें मान लेनी चाहिए।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger