Home » » धरी रह गई भाजपा नेता की दंबगई, पुलिसवाले ने बनाया चालान

धरी रह गई भाजपा नेता की दंबगई, पुलिसवाले ने बनाया चालान

खंडवा ।'जानते हो आप, मैं कौन हूं। पूरी बीजेपी को जमा कर लूंगा, फिर बना लोगे चालान आप।' यह रौब है भाजपा के नगर उपाध्यक्ष कैलाश राठौर का, जो उन्होंने बुधवार को चालानी कार्रवाई के दौरान ट्रैफिक एएसआई भीमराव अटकड़े पर झाड़ा। वे बिना सीट बेल्ट लगाए कार चला रहे थे और एएसआई अटकड़े ने उनकी कार रोक ली थी।
एएसआई द्वारा कार रोके जाने पर राठौर को अच्छा नहीं लगा। एएसआई ने कहा कि आप पांच सौ रुपए की रसीद कटवा लो फिर जा सकते हो। इस पर भाजपा नेता राठौर और भड़क गए। उन्होंने पूरी भाजपा को मौके पर जमा करने की धमकी दे डाली। इस तरह से काफी समय तक बहस चलती रही। इसके बाद एएसआई अटकड़े ने कार को थाने भिजवा दिया। बाद में कार बिना चालान बनाए ही छोड़ दी गई। इस मामले में जब भाजपा नेता राठौर से उनका पक्ष जानने का प्रयास किया गया तो उनके दोनों मोबाइल बंद मिले।
एएसआई की सराहना
इस घटनाक्रम का गुरुवार को वीडियो भी वायरल हुआ है। करीब 40 सेकंड के इस वीडियो को सोशल मीडिया पर खूब देखा जा रहा है। वीडियो में नगर उपाध्यक्ष राठौर खुलेआम एएसआई को धमकाते हुए नजर आ रहे हैं। पास खड़े पुलिसकर्मी उन्हें समझाते रहे लेकिन बहस का दौर चलता रहा। व्हपुलिसकर्मी सहित आम लोग भी एएसआई अटकड़े की सराहना कर रहे हैं।
यह पहला मामला नहीं
ट्रैफिक नियमों का पालन करने को लेकर हुए विवाद का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी कायदे-कानून पर हावी होती नेतागिरी के चलते पुलिस अधिकारियों को इस तरह के बरताव का सामना करना पड़ा है। पूर्व में ट्रैफिक डीएसपी बीपी सलोंकी को हटाने के लिए विधायक देवेन्द्र वर्मा ने विधानसभा में प्रश्न लगा दिया था। डीएसपी सलोंकी और विधायक के बीच हमेशा तनातनी बनी रही।
डीएसपी सलोंकी का ट्रांसफर कर दिया गया था। महापौर सुभाष कोठारी के भतीजे की गाड़ी रोकने पर सूबेदार देवेंद्र सिंह परिहार को फटकार सुननी पड़ी थी। महापौर कोठारी थाने पहुंचे गए थे। इसके बाद परिहार को पुलिस लाइन अटैच दिया गया था। इसी तरह से छैगांवमाखन के भाजपा नेता ने अग्रसेन चौराहे पर एएसआई सुरेश डाबर से दुर्व्यहार किया था। चालानी कार्रवाई के दौरान विवाद हुआ था।
पहली गलती थी, छोड़ दिया
भाजपा नेता राठौर ने अपनी गलती स्वीकार की है। उन्होंने लिखित में माफीनामा दिया है। पहली गलती थी इसलिए समझाइश देकर छोड़ दिया गया है। संतोष कोल, ट्रैफिक डीएसपी
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger