Home » » किम परिवार का कोई सदस्य पहली बार करेगा दक्षिण कोरिया की यात्रा

किम परिवार का कोई सदस्य पहली बार करेगा दक्षिण कोरिया की यात्रा

सियोल। उत्तर और दक्षिण कोरिया के बीच चल रही तल्खी के बीच फिलहाल कुछ सदभाव वाली खबरें सुनने को मिल रही है। सूत्रों के मुुताबिक उत्‍तर कोरिया ने किम जोंग-उन की छोटी बहन को शुक्रवार से शुरू होने वाले विंटर ओलंपिक के अपने उच्‍च स्‍तरीय प्रतिनिधिमंडल के एक सदस्‍य के रूप में भेजने की पेशकश रखी है।
हालांकि पिछले महीने ही ऐसी खबरें सुनने को मिली रही थीं कि किम जोंग-उन की बहन किम यो जोंग विंटर ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए अपने देश की टीम को साउथ कोरिया लेकर जाएगी। किम यो जोंग ना सिर्फ अपनी टीम के साथ रहेगी, बल्कि वो प्रतिनिधित्व भी करती नजर आएगी। हालांकि इस बात की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई थी, लेकिन अब सियोल ने इस बात की पुष्टि कर दी है।
पहली बार किम परिवार का सदस्य दक्षिण कोरिया जाएगा-
उत्तर कोरिया के द्वारा दक्षिण कोरिया को बताया गया है कि सत्तारूढ़ पार्टी के प्रचार और आंदोलन विभाग की प्रथम उप-निदेशक किम यो-जोंग को प्योंगयांग को उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल में शामिल किया जाएगा। बताया जा रहा है कि यह पहली बार होगा कि किम परिवार का सदस्य के दक्षिण कोरिया जाएगा।
इसके अलावा दो अन्य अधिकारी चोई हवी, जो राष्ट्रीय खेल मार्गदर्शन समिति के अध्यक्ष हैं, और री सोन-गिआन, जो उत्तर-कोरियाई मामलों के प्रभारी उत्तर की ओर से प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं।
पिघल सकती है रिश्तों पर जमा बर्फ-
उत्तर कोरिया की ओर से शुक्रवार से शुरू होने वाले विंटर ओलंपिक में तीन दिवसीय यात्रा पर दक्षिण कोरिया के तीन रैंकिंग अधिकारियों और 18 सहयोगी कर्मचारियों सहित 22 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल भेजना प्रस्तावित है। ऐसा माना जा रहा है कि विंटर ओलंपिक के जरिए उत्‍तर और दक्षिण कोरिया के रिश्‍तों पर जमी नफरत की बर्फ पिघल जाएगी।
फिर किम जोंग-उन का प्रतिनिधिमंडल के दल में अपनी बहन को शामिल करने का फैसला इन दोनों देशों को करीब लाने में मदद जरूर करेगा। फिर पिछले कुछ दिनों से उत्‍तर कोरिया और अमेरिका के बीच कोई ट्वीट वार भी नहीं हुआ है।
280 लोगों का दल जाएगा दक्षिण कोरिया-
यो जोंग सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की वरिष्ठ नेता हैं और उन्हें अपने भाई की विश्वासपात्र हैं। उत्तर कोरिया के सत्तारूढ़ परिवार के किसी सदस्य की 65 साल में यह पहली उत्तर कोरिया यात्रा होगी। उत्तर कोरिया के खिलाडि़यों, उत्साह बढ़ाने वालों, अधिकारियों और पत्रकारों का 280 सदस्यीय दल बुधवार को सीमा पार करके सड़क मार्ग से दक्षिण कोरिया पहुंच गया।
इस दल के आने का कुछ दक्षिण कोरियाई परंपरावादियों ने विरोध किया है लेकिन उन्हें तवज्जो नहीं मिली। किम यो जोंग उत्तर कोरियाई संसद के अध्यक्ष किम योंग नाम की अगुआई में आ रहे प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगी। माना जा रहा है कि वह दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई-इन से भी मुलाकात करेंगी और उन्हें अपने भाई का लिखा पत्र देंगी।
बुधवार को आए उत्तर कोरियाई प्रतिनिधिमंडल में 229 उत्साह बढ़ाने वाले, ताइक्वांडो टीम के 26 सदस्य, 21 पत्रकार और चार अधिकारी शामिल हैं। प्रतिनिधिमंडल के साथ उत्तर कोरिया के खेल मंत्री किम इल गुक भी आए हैं। यह दल बस में सवार होकर दक्षिण कोरिया आया है।
आवश्यक सुरक्षा जांच के बाद यह दल प्योंगचांग के अल्पाइन रिजॉर्ट में पहुंच गया, जहां इसे खेलों के दौरान ठहरना है। मंगलवार को एक नौका के जरिये उत्तर कोरिया के 140 ऑर्केस्ट्रा कलाकार दक्षिण कोरिया पहुंचे थे। ये कलाकार उद्घाटन समारोह के दौरान अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।
दरअसल, उत्‍तर कोरिया लगातार अपने परमाणु हथियारों को बड़ा रहा है। अपने मौजूदा परमाणु हथियारों की क्षमता में इजाफा कर रहा है। पिछल दिनों किम जोंग ने एक ऐसी मिसाइल का सफल परीक्षण किया, जिसकी जद में अमेरिका भी आ गया है।
इसके अलावा किम जोंग लगातार अमेरिका को परमाणु हमले की धमकी देता रहता है। अमेरिका लगातार उत्‍तर कोरिया को समझाने की कर रहा है, लेकिन किम जोंग नहीं मान रहा। संयुक्‍त राष्‍ट्र के द्वारा उत्‍तर कोरिया पर कई प्रतिबंध भी लगाए गए हैं। लेकिन इसके बावजूद किम जोंग पीछे हटने को तैयार नहीं है। शायद विंटर ओलंपिक के बाद उत्‍तर और दक्षिण कोरिया के रिश्‍तों में सुधार आए।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger