Home » » पीएम मोदी ने लोकसभा में दिया डेढ़ घंटे लंबा भाषण, जानिए 10 बड़ी बातें

पीएम मोदी ने लोकसभा में दिया डेढ़ घंटे लंबा भाषण, जानिए 10 बड़ी बातें

नई दिल्ली। लोकसभा में पीएम नरेंद्र मोदी का भाषण और दूसरी तरफ विपक्ष का जोरदार हंगामा। राष्‍ट्रपति के अभिभाषण को लेकर धन्‍यवाद प्रस्‍ताव पर चर्चा हो रही है। पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रपति जी का भाषण किसी दल का नही होता है और उसका सम्मान होना चाहिए। इस दौरान उन्होंने विपक्ष कांग्रेस पर कई तीखे वार किए और साथ ही अपनी उपलब्धियां भी गिना दीं। बता दें कि राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के साथ ही बजट सत्र की शुरुआत हुई थी। आइए जानते हैं पीएम मोदी के भाषण की मुख्य बातें...
लोकतंत्र कांग्रेस की देन नहीं - 
पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि भारत का लोकतंत्र नेहरू और कांग्रेस की देन नहीं है, देश का अस्तित्व उससे भी पहले से था। लोकतंत्र हमारी रगों में है, हमारी परंपरा में है। यह किसी पार्टी विशेष की देन नहीं है। पीएम मोदी ने गांधी परिवार पर बड़ा हमला करते हुए कहा कि दशकों तक कांग्रेस ने अपनी सारी ऊर्जा एक परिवार की सेवा में लगा दी और देश के हित को एक परिवार के हित के लिए नजरअंदाज कर दिया।
भाजपा नेता दूरदर्शी लेकिन कांग्रेस नहीं - 
पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा नेता अटल बिहारी वाजपेयीजी दूरदर्शी थे। जब हम नए राज्‍यों के निर्माण की बात करते हैं तो हमें उन तौर-तरीकों को याद करना चाहिए जिस तरह वाजपेयीजी ने उत्‍तराखंड, झारखंड और छत्‍तीसगढ़ का निर्माण किया था। लेकिन कांग्रेस चुनाव को देखते हुए फैसले लेती है। कांग्रेस पार्टी ने भारत मां के टुकड़े किए हैं। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने चुनाव की वजह से जल्दबाजी में आंध्र प्रदेश का विभाजन कर दिया था।
राजीव ने किया था दलित नेता का अपमान - 
कांग्रेस पर तीखा हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अगर पार्टी जमीन से जुड़ी होती तो आज इसकी ये हालत नहीं होती। कहा कि, पूर्व पीएम राजीव गांधी ने हैदराबाद एयरपोर्ट पर उतर के अपनी ही पार्टी के दलित सीएम एनटी रामा राव का खुलेआम अपमान किया था। इसके बाद ही तनावभरे माहौल के बीच टीडीपी का गठन हुआ था। उन्होंने राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष चुने जाने पर सवाल उठाया। मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का एक नौजवान अध्यक्ष बनने के लिए पर्चा भरना चाहता था, लेकिन उसे ऐसा नहीं करने दिया गया। मोदी का इशारा शहजाद पूनावाला की ओर था। यह भी कहा कि अगर कांग्रेस जमीन से जुड़ी होती तो उनकी यह हालत न होती। उन्होंने कहा कि, 'जी चाहता है कि सच बोलें, क्या करें हौसला नहीं होता'।
...तो आज कश्मीर हमारा होता - 
कश्‍मीर मुद्दे पर पीएम मोदी ने कहा कि अगर सरदार वल्‍लभभाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते तो पूरा कश्‍मीर हमारा होता। वहीं यह भी कहा कि कांग्रेस ने केरल में कैसी कार्रवाई की? पंजाब में अकाली दल के साथ कैसा बर्ताव किया? तमिलनाडु में कैसा व्‍यवहार किया? क्‍यों कांग्रेस ने अपनी मर्जी के हिसाब से इतनी सारी राज्‍य सरकारों को खारिज कर दिया।
खड़गे का जवाब दिया शेर से - 
पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक के चुनाव के बाद क्या पता खड़गे जी वहां होंगे या नहीं, ये शायद उनकी फेयरवेल स्पीच भी हो सकती है। जब फेयरवेल स्पीच होती है तो सम्मान से देखी जाती है। बता दें कि मल्ल‍िकार्जुन खड़गे ने अपने भाषण में बशीर बद्र का शेर कहा था-दुश्मनी जमकर करो लेकिन ये गुंजाइश रहे, जब कभी हम दोस्त हो जाएं तो शर्मिंदा न हों।' इसके जवाब में पीएम मोदी ने डॉ. बद्र का ही यह शेर पढ़ कर कहा- 'जी बहुत चाहता है सच बोलें, क्या करें हौसला नहीं होता।'
रोजगार बढ़े लेकिन 'उन्हें' दिखाई नहीं देता - 
बेरोजगारी पर पीएम मोदी ने कहा कि चार राज्य जहां भाजपा या एनडीए की सरकार नहीं है, वहां पिछले तीन-चार साल में एक करोड़ लोगों को रोजगार मिला है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने पूछा कि क्या कांग्रेस इन आंकड़ों को नहीं मानेगी? पीएम मोदी ने कहा कि अब लोग स्टार्टअप शुरू करना चाहते हैं तो ऐसे में क्या स्वरोजगार को रोजगार नहीं माना जाएगा?
पिछली सरकारों को दिया श्रेय, कांग्रेस ने कभी नहीं किया - 
अपने भाषण में उन्होंने कहा कि ये नरेंद्र मोदी ने लाल किले से हमेशा कहा है कि देश आज जहां है उसमें पिछली सारी सरकारों का योगदान है। ऐसा किसी भी कांग्रेस नेता ने कभी नहीं कहा है।
आधार को वैज्ञानिक ढंग से लागू किया - 
आपकी तरफ से आशंका थी कि मोदी आधार को खतम कर देगा। पर जब आधार अच्छे ढंग से लागू हो गया, गरीबों को उसका फायदा मिलने लगा तो आपको उसका इम्प्लीमेंट खराब लगने लगा।
21वीं सदी की विमानन नीति - 
पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अपने गीत गाती है और आंख बंद करके रहती है। साथ ही उन्‍होंने अटल बिहारी वाजयेपी का जिक्र करते हुए कहा कि उन्होंने कहा था कि छोटे मन से कोई बड़ा नहीं होता और टूटे मन से कोई खरा नहीं होता। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस द्वारा 18वीं सदी में 21वीं सदी के सपने दिखाए जाते थे। उन्‍होंने कहा कि 21वीं सदी की बात करने वाली सरकार एक विमानन नीति तक नहीं ला सकी। तो फिर किस तरह की 21वीं सदी की उन्‍होंने बात की, क्‍या बैलगाड़ियों वाले सदी की।
चल रही हिट और रन की राजनीति - 
हिट और रन की राजनीति चल रही है। कीचड़ उछालो और भागो। लेकिन जितना कीचड़ उछालोगे कमल उतना ही खिलेगा। जब देश डोकलाम में लड़ाई लड़ रहा था तब आह चीन के लोगों से मिल रहे थे।
2014 के बाद से ही उत्तर भारत के विकास पर जोर - 
पीएम मोदी ने आगे कहा कि भारत की आजादी के बाद आजाद हुए देश विकास की दौड़ में आगे निकल गए हैं। कांग्रेस के समय में काम बस कागज पर हुआ था। हमने आज उस काम को प्रारंभ कर दिया। पूर्वोत्‍तर का भी पीएम मोदी ने जिक्र किया। उन्‍होंने कहा कि 2014 में सरकार बनाने के बाद हमने पूर्वोत्‍तर को प्राथमिकता दी और इसके विकास के लिए काम किया।
सबसे बड़ी सुरंग और सबसे तेज ट्रेन - 
पीएम मोदी ने अपने भाषण में कहा कि हमारी सरकार ने देश में सबसे बड़ी सुरंग बनाने का काम किया। इसके अलावा देश में सबसे तेज ट्रेन चलाने का वादा पूरा किया गया। इसके अलावा इसी सरकार में 104 सैटेलाइट का प्रक्षेपण किया गया।
स्वच्छ भारत मिशन का भी जिक्र - 
पीएम मोदी ने अपने भाषण में स्वच्छ भारत का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मेरा स्वच्छ भारत अभियान अगले चौराहे तक ही सीमित नहीं है। इस देश के लोगों के हक के लिए भी है।
कांग्रेस हमेशा शंका में - 

उन्होंने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि आप शंका में इसलिए रहते हैं क्योंकि आपने कभी कुछ बड़ा सोचा ही नहीं और छोटे मन से कुछ होता नहीं।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger