Madhya Pradesh Tourism

Home » , » राष्ट्रपति के संबोधन के साथ शुरू होगा बजट सत्र, जेटली पेश करेंगे आर्थिक सर्वे

राष्ट्रपति के संबोधन के साथ शुरू होगा बजट सत्र, जेटली पेश करेंगे आर्थिक सर्वे

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र का आज से आगाज होगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद संसद के दोनों सदनों के संयुक्त सेशन को संबोधित करते हुए बज सत्र की शुरुआत करेंगे। इसके बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली आर्थिक सर्वे पेश करेंगे। 1 फरवरी को संसद में केंद्र सरकार देश का आम बजट पेश करेगी। इस सत्र में बजट के अलावा तीन तलाकसमेत कई अहम बिलों पर चर्चा होगी। तीन तलाक से जुड़ा बिल लोकसभा में पास हो चुका है लेकिन राज्यसभा में विपक्ष ने इसकी राह रोक रखी है।
माना जा रहा है कि संसद का बजट सत्र भी हंगामेदार हो सकता है। रविवार को पहले सरकार और फिर लोकसभा अध्यक्ष की सर्वदलीय बैठक में यह बात स्पष्ट रूप से सामने आई।
विपक्ष सबसे पहले सुप्रीम कोर्ट के संवैधानिक संकट, करणी सेना के उत्पात और कासगंज की सांप्रदायिक घटना जैसे मुद्दों पर चर्चा के लिए सरकार को राजी करना चाहता है। वह भी अपनी शर्तों पर। दूसरी तरफ, सरकार एक साथ तीन तलाक और ओबीसी आयोग जैसे मुद्दों पर आगे बढ़ना चाहती है।
ऐसे में फिर से अवरोध उत्पन्न हो तो आश्चर्य नहीं। रविवार को पहले सरकार की और फिर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की सर्वदलीय बैठक हुई। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आए और उन्होंने सभी दलों से अपील की कि बजट सत्र के महत्व को देखते हुए सहयोग के साथ सदन चलाएं।
उन्होंने कहा कि सरकार विपक्ष के सुझावों को गंभीरता से लेती है। विपक्ष को यह भरोसा भी दिलाया कि सरकार किसान, रोजगार व आर्थिक स्थिति जैसे मुद्दों पर चर्चा के लिए तैयार है। बैठक में गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडगे, गुलाम नबी आजाद, सपा नेता मुलायम सिंह, भाकपा के डी राजा, द्रमुक की कनीमोरी, तृणमूल के सुदीप वंद्योपाध्याय, राकांपा के तारिक अनवर समेत शिवसेना और कुछ विपक्षी दलों के नेता मौजूद थे। लोकसभा अध्यक्ष की बैठक में भी इनकी मौजूदगी थी।
पर सत्तापक्ष और विपक्ष की प्राथमिकताएं अलग-अलग थीं। दरअसल, सरकार चाहेगी कि राज्यसभा में तीन तलाक और ओबीसी आयोग को संवैधानिक दर्जा देने संबंधी बिल पर पहले फैसला हो। संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बजट सत्र के एजेंडे की जानकारी देते हुए बताया कि तीन तलाक बिल को राज्यसभा से पास कराना उनकी प्राथमिकता में है। विपक्ष को इस मामले में जीएसटी जैसी सर्वसम्मति दिखानी चाहिए।
कोविंद पहली बार करेंगे संसद को संबोधित
बजट सत्र के पहले दिन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अभिभाषण होगा। वे संसद के दोनों सदनों को संयुक्त रूप से संबोधित करेंगे। यह संसद में उनका पहला अभिभाषण होगा। परंपरा के अनुसार, संसद का बजट सत्र राष्ट्रपति के संबोधन से शुरू होता है। इसमें राष्ट्रपति सरकार की योजनाओं का खाका देश के सामने रखते हैं।
विपक्ष आज बनाएगा रणनीति
विपक्ष सोमवार सुबह संसद परिसर में ही बैठक कर सरकार को घेरने की रणनीति तय करेगा। हरियाणा में हो रही दुष्कर्म की घटनाओं पर भी केंद्र से सवाल पूछा जाएगा। गणतंत्र दिवस के अवसर पर राहुल गांधी को छठी लाइन में सीट देने पर भी सवाल उठाया जा सकता है।
सूत्रों की मानें, तो बजट पेश होने तक कोई अवरोध नहीं होगा। लेकिन उसके बाद संसद का माहौल गर्म रहेगा। गौरतलब है कि फरवरी में उत्तर पूर्व के तीन राज्यों में चुनाव है। कांग्रेस के साथ-साथ वाम मोर्चा के लिए भी यह चुनाव अहम है।
Share This News :
 
Site Link : Contact Us | sitemap
Copyright © 2013. khabrokakhulasa.com | Latest News in Hindi,Hindi News,News in Hindi - All Rights Reserved
Template Modify by Unreachable
Proudly powered by Blogger